कोरबा: राज्य वीरता पुरस्कार के लिए गुरमा गांव के रहने वाले प्रभुराम मंझवार का हुआ चयन
Last Update: 10 Jan 2017 13:45
   

कोरबा के गुरमा गांव के रहनेवाले प्रभुराम मंझवार का भी चयन राज्य वीरता पुरस्कार के लिए हुआ है। जिन भालुओं को देखकर बड़े-बड़ों के होश फाख्ता हो जाते हैं, उन भालुओं से लड़कर प्रभु ने न सिर्फ अपने छोटे भाई की जान बचाई बल्कि हमला करनेवाले भालुओं को भी खदेड़ा।

प्रभु और उसका छोटा भाई जोइधा 29 मार्च 2016 को जब महुआ बीनने जंगल गए थे, तो 2 भालुओ ने प्रभु के छोटे भाई पर हमला कर दिया। उसकी चीख सुनकर प्रभु ने टंगिया से भालुओं को दूर खदेड़ा और फिर छोटे भाई को लेकर पेड़ पर चढ़ गया।

तभी दोनों भालू भी पेड़ पर चढ़ने लगे, लेकिन प्रभु ने टंगिया से फिर वार किया, जिसे भालू घबराकर भाग गए। इस बीच प्रभु का छोटा भाई घायल हो गया, लेकिन लोगों को आवाज़ देकर प्रभु ने उसे अस्पताल पहुंचाया। अब प्रभु का छोटा भाई स्वस्थ है।

Last Update: 10 Jan 2017 13:45
TAG:
AWARD
KORBA
SELECTED
GALLANTRY
PRABHURAAM MNJWAR
वीरता पुरस्कार
  Comment
Name Email
Comment
यूपी के पेट्रोल पंप में छापे के बाद छत्तीसगढ़ में भी नापतौल विभाग ने पेट्रोल पंप पर छापा मारा
धूमधाम से मनाया गया अक्षय तृतीया का पर्व..
पत्थलगांव के धरमगढ़ इलाके में 40 हाथियों के दल ने जमाया डेरा, धान और मक्का की फसलों को किया बर्बाद
मध्यप्रदेश में 108 कर्मियों की हड़ताल शनिवार को भी जारी रहा...
छत्तीसगढ़ विधानसभा में सुकमा हमले में CRPF के 25 जवानों की शहादत के मामले पर हुआ जमकर हंगामा